पुस्तकालय उपयोग के नियम

पुस्तकालय के सामान्य नियम:

    1. सभी उपयोगकर्ताओं / पाठकों को पुस्तकालय में अनुशासन बनाए रखने की आवश्यकता है।
    2. पुस्तकालय में प्रवेश करने वाले प्रत्येक उपयोगकर्ता द्वारा विज़िटिंग रजिस्टर में हस्ताक्षर करना आवश्यक है।
    3. कृपया पुस्तकालय में शांति बनाए रखें।
    4. स्टैक रूम में प्रवेश करने से पहले पुस्तकालय कर्मचारियों की अनुमति लें।
    5. पुस्तकालय के अंदर धूम्रपान, खाना, सोना और बात करना निषिद्ध है।
    6. पुस्तकालय के अंदर छतरियों, बोरे / बैग, लैपटॉप बैग, हेल्मेट इत्यादि जैसे व्यक्तिगत सामान ले जाना निषिद्ध हैं। ऐसी सभी वस्तुओं को प्रवेश द्वार पर दिए गए रैक में रखा जाना चाहिए।
    7. पाठक को पुस्तकालय की किसी पाठ्य सामग्री को क्षतिग्रस्त करना, उस पर लिखना या कोई अंकन इत्यादि नहीं करना चाहिए।
    8. उपयोगकर्ता पुस्तकों और अन्य पुस्तकालय सामग्री में किए गए किसी भी नुकसान के लिए जिम्मेदार होगा और ऐसी पुस्तकों को प्रतिस्थापित करना होगा या उसके मूल्य का भुगतान करना होगा।
    9. पुस्तकालयाध्यक्ष की पूर्व अनुमति के बिना पुस्तकों का यांत्रिक प्रजनन प्रतिबंधित है।
    10. रोबोट या किसी भी तकनीक के उपयोग से ई-संसाधनों का भारी डाउनलोड सख्ती से प्रतिबंधित है।
    11. छात्रों को परीक्षा (वार्षिक या सेमेस्टर) शुरू होने से पहले पुस्तकालय से “अदेय प्रमाणपत्र” ले लेना चाहिए।
    12. पुस्तकालय परिसर में मोबाइल फोन बंद करें या चुप मोड पर रखें।
    13. काउंटर पर पुस्तकालय कर्मचारियों द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें।
    14. इन नियमों का अनुपालन करने में विफल पाठक पुस्तकालय सेवाओं से वंचित हो सकता है।
    15. पुस्तकालयाध्यक्ष को ऐसे किसी भी सदस्य की सदस्यता को निलंबित करने का अधिकार सुरक्षित है, जो पुस्तकालय कर्मचारियों से अशिष्ट तरीके से व्यवहार करता है या पुस्तकालय सेवाओं का दुरूपयोग करता है।
    16. पुस्तकालयाध्यक्ष की पूर्व अनुमति के बिना पुस्तकालय का उपयोग करने के लिए किसी भी आगंतुक या अतिथि को अनुमति नहीं है।
    17. सदस्यों का पृष्ठों को फाड़ने / पुस्तकों को चोरी करने या अन्य तरीकों से पुस्तकालय की सुविधाओं का दुरूपयोग करते पाये जाने पर तुरंत निलंबित कर दिया जाएगा और कॉलेज द्वारा उनके खिलाफ आगे अनुशासनात्मक कार्यवाही शुरू की जाएगी।
    18. पुस्तकालयाध्यक्ष की पूर्व अनुमति के बिना पुस्तकालय की कोई तस्वीर नहीं ली जाएगी।

पुस्तकों के आगत/निर्गत के लिए नियम:

    1. पुस्तकों को पहली बार 15 दिनों की अवधि के लिए निर्गत किया जाएगा।
    2. छात्रों के पुस्तकालय कार्ड पर एक समय में केवल एक पुस्तक निर्गत की जाएगी।
    3. पुस्तक निर्गत कराते समय किसी दोष या क्षति की जाँच कर लें एवं पुस्तकालय कर्मी को इस संबध में सूचित करें।
    4. निर्गत की गई पुस्तक को आगत तिथि को या उससे पहले वापस कर दें। उसी पुस्तक को पुन: निर्गत करना केवल तभी संभव है जब पुस्तक मांग में न हो।
    5. संदर्भ पुस्तकें जैसे विश्वकोष, शब्दकोश, निर्देशिका इत्यादि निर्गत नहीं की जाएंगी।
    6. पुस्तक के खोने या क्षति के मामले में, उपयोगकर्ता को पुस्तक का प्रतिस्थापन करना होगा।
    7. पुस्तक में रेखांकन, अंकन, पृष्ठों का तह करना इत्यादि प्रतिबंधित है।
    8. निर्गत की गई पुस्तकों को बारिश, धूल एवं कीट इत्यादि से संरक्षित किया जाना चाहिए और इसे निर्गत किए जाने के समान स्थिति में वापस किया जाना चाहिए।
    9. छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे अपने नाम पर दूसरों को पुस्तकें निर्गत न करें।
    10. पुस्तकालयाध्यक्ष किसी भी समय निर्गत की गई पुस्तक को वापस मंगाने के लिए स्वतंत्र हैं।

पुस्तकालय सदस्यता हेतु निर्देश:

    1. कॉलेज में प्रवेश लेने वाले सभी छात्रों को पुस्तकालय के सम्मानित सदस्य बनने का अधिकार है।
    2. पंजीकरण के लिए सदस्यता काउंटर में निम्नलिखित मदें लाएं:
      1. भरा हुआ सदस्यता फॉर्म
      2. मूल शुल्क रसीद, और
      3. पहचान पत्र
    3. पंजीकरण के बाद, पुस्तकों के जारी करने के लिए पुस्तकालय कार्ड प्रदान किया जाएगा।

Announcements

Gallery

Visitor Count

Important Links

delnet.nic.in nlist.inflibnet.ac.in/ inflibnet.ac.in epgp.inflibnet.ac.in/index.php infoport.inflibnet.ac.in nptel.ac.in/ shodhganga.inflibnet.ac.in/ content.inflibnet.ac.in/ https://swayam.gov.in/ http://www.indianjournals.com/ ndl.iitkgp.ac.in https://www.wdl.org/en/ http://www.unesco.org/library/ doaj.org https://www.doabooks.org/ http://www.opendoar.org/ https://archive.org/ South Asia Archive Project Gutenberg Grammarly Cambridge Dictionary

New Arrivals

Copyright © 2018 Library | C.M.P. Degree College, Allahabad. All rights reserved. Library website is developed by Punit Kumar Singh, College Librarian